वाशिंगटन: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ महाभियोग की सुनवाई को संसद के ऊपरी सदन सीनेट में भेजने के लिए निचले सदन ‘हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव्स’ में बुधवार को मतदान होगा. विपक्षी दल डेमोक्रेटिक पार्टी के सांसदों ने उक्त जानकारी दी. 435 सदस्यीय चिनले सदन में डेमोक्रेट्स बहुमत में हैं. सदन में एक राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ जांच करने के लिए यूक्रेन पर दबाव बनाने के मामले में ट्रंप पर गंभीर आरोप लगाते हुए पिछले महीने महाभियोग की प्रक्रिया शुरू की. सदन की अध्यक्ष नैन्सी पेलोसी ने अपनी पार्टी को एक बैठक के दौरान मतदान की जानकारी दी. Also Read - Donald Trump की बेटी Ivanka Trump ने PM मोदी के साथ की तस्वीरें शेयर कीं, लिखी ये बात...

ईरान-US तनाव के बीच इराक में अमेरिकी एयरबेस पर रॉकेटों से हमला, 4 पायलट घायल Also Read - US Election 2020: कौन होगा अमेरिका का 45वां राष्ट्रपति.. ट्रंप या बाइडेन, वोटिंग हुई शुरू

इसी बीच ये भी कयास लगाया जा रहा है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप फरवरी महीने में भारत दौरे पर आ सकते हैं. एक अधिकारी ने कहा, यह यात्रा ऐसे समय पर होने की संभावना है जब अमेरिकी संसद में डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ महाभियोग पर वोटिंग की जाएगी. भारत सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार, दोनों देश यात्रा के लिए पारस्परिक रूप से सुविधाजनक तारीखों के लिए प्रयास कर रहे हैं. यही नहीं तारीखों के ऐलान को लेकर दोनों देश आपस में संपर्क में हैं. Also Read - तेजस्वी ने नीतीश से किया सवाल-बिहार को स्पेशल स्टेटस दिलवाने डोनाल्ड ट्रंप आएंगे क्या

अमेरिका के बधाई संदेश के बदले उत्तर कोरिया ने दिखाई गर्मी, बोला- मांगे स्वीकार होने तक कोई बातचीत नहीं

खबरों के अनुसार ट्रंप और मोदी लंबे समय से लंबित द्विपक्षीय व्यापार सौदे के अलावा नागरिक उड्डयन पर एक समझौते पर हस्ताक्षर कर सकते हैं. ट्रंप की यह भारता यात्रा ऐसे समय में हो रही है जब भारत की आर्थिक वृद्धि 2009 के बाद से सबसे धीमी गति से चल रही है साथ ही सरकार द्वारा पारित नागरिकता कानून के खिलाफ देश में असंतोष का माहौल देखने को मिल रहा है.