सॉल्ट लेक सिटी: अमेरिका में एक पूर्व नौसेना कर्मी पर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और अन्य नेताओं को पत्र भेजकर जैविक जहर का इस्तेमाल करने की धमकी देने का आरोप लगाया गया है. इन पत्रों में कास्टर के बीज थे जिनसे राइसिन जहर निकलता है.

पत्रों में राइसिन जहर होने की पुष्टि
एफबीआई के जांच अधिकारियों ने यूटा की एक जिला अदालत में दायर किए गए दस्तावेजों में बताया कि विलियम क्लाइड एलेन तृतीय (39) ने जांचकर्ताओं को बताया कि वह ‘‘एक संदेश देने’’ के लिए पत्र भेजना चाहता था हालांकि उसने विस्तार से इसके बारे में नहीं बताया. शिकायत के अनुसार, लिफाफे पर उसका पता पाने के बाद अधिकारियों ने एलेन पर ध्यान केंद्रित किया.

संदेहास्पद तरीके से लापता हुए इंटरपोल प्रमुख, चीनी सरकार की हिरासत में !

दस्तावेजों में कहा गया है कि पत्रों में राइसिन जहर होने की पुष्टि हुई और इसमें कुछ लिखा भी था, ‘‘जैक एंड द मिसाइल बीन स्टॉक’’. यूटा के लिए अमेरिकी अटॉर्नी जॉन ह्यूबर ने एलेन की मानसिक स्थिति पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया लेकिन कहा कि ‘‘मामले में कोई भी हास्यास्पद बात नहीं है.’’

आरोप सिद्ध होने पर उम्रकैद की हो सकती है सजा
अदालत में शुक्रवार को सुनवाई के दौरान एलन यह बताते हुए रो पड़ा कि उसकी पत्नी को रीढ़ की हड्डी में दिक्कत है और वह उसकी मदद करता है. वह अपने परिवार के सदस्यों को देखकर मुस्कुराया. उसने याचिका दायर नहीं की और उसके वकील लिन डोनाल्डसन ने इस पर टिप्पणी नहीं की है.

अगर जैविक जहर देने के आरोप में एलेन को दोषी ठहराया जाता है तो उसे उम्रकैद हो सकती है. उस पर खत के जरिए धमकी देने के भी चार आरोप है जिसमें उसे 10 साल की सजा हो सकती है. अधिकारियों ने बताया कि ये पत्र राष्ट्रपति, एफबीआई निदेशक क्रिस्टोफर व्रे, रक्षा मंत्री जिम मैटिस और नौसेना के शीर्ष अधिकारी एडमिरल जॉन रिचर्डसन को भेजे गए थे.

मामला ग्रैंड ज्यूरी के समक्ष जाने की उम्मीद
पत्रों का समय रहते पता लगा लिया गया और किसी को भी नुकसान नहीं पहुंचा. एफबीआई ने बताया कि सभी पत्र राइसिन जहर के लिए पॉजीटिव पाए गए. एलेन ने जांच अधिकारियों को बताया कि उसने महारानी एलिजाबेथ द्वितीय, रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और वायु सेना के सचिव को भी इसी तरह के पत्र भेजे थे. हालांकि, यह स्पष्ट नहीं है कि वे लिफाफे पाए गए हैं या नहीं.

सोच से तकनीक को नए आयाम पर पहुंचाने वाले स्टीव जॉब्स ने आज ही के दिन दुनिया को कहा था अलविदा

यह मामला ग्रैंड ज्यूरी के समक्ष जाने की उम्मीद है और एलेन 18 अक्टूबर को सुनवाई के दौरान अतिरिक्त आरोपों का सामना कर सकता है. एलेन को बुधवार को सॉल्ट लेक सिटी के उत्तर में छोटे-से शहर लोगान में उसके घर से पकड़ा गया. उसने जांचकर्ताओं को बताया कि ई-बे से यह सोचकर कास्टर के बीज खरीदे थे कि अगर तृतीय विश्वयुद्ध होता है तो वह अपने देश की रक्षा कर सके.

नौसेना के रिकॉर्डों के अनुसार, एलेन 1998 से 2002 तक नौसेना में रहा. उसका यूटा में आपराधिक रिकॉर्ड भी है. उसने कुछ साल पहले भी तत्कालीन राष्ट्रपति बराक ओबामा को धमकी भरे पत्र भेजे थे. (इनपुट भाषा)