वॉशिंगटन: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि पत्रकार जमाल खशोगी के लापता होने और उनकी ‘हत्या’ के लिए ‘शैतान हत्यारे’ जिम्मेदार हो सकते हैं. दो हफ्ते पहले तुर्की के इस्तांबुल स्थित सऊदी अरब के वाणिज्य दूतावास में दाखिल होने के बाद से खशोगी लापता हैं और उनकी हत्या की आशंका जताई जा रही है.

खागोशी के लापता होने में अगर सऊदी अरब का हाथ, तो मिलेगी सजा: ट्रंप

ट्रंप ने सऊदी अरब के किंग सलमान के साथ फोन पर 20 मिनट तक हुई बातचीत के बाद यह टिप्पणी की. किंग सलमान से बातचीत पर ट्रंप ने कहा कि खशोगी के साथ जो कुछ भी हुआ, उस पर सऊदी सुल्तान ने अनभिज्ञता जाहिर की. राष्ट्रपति ने कहा कि वह विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ को सऊदी अरब और हर जरूरी जगह पर भेजेंगे ताकि खशोगी की संभावित मौत की तह तक पहुंचा जा सके. मूल रूप से सऊदी नागरिक खशोगी अमेरिका में रहते और काम करते थे.

खागोशी मामला: तुर्की के राष्ट्रपति ने सऊदी किंग से की वार्ता

ट्रंप ने कहा, मुझे ऐसा लगा कि इसके पीछे कुछ शैतान हत्यारे हों
ट्रंप ने सोमवार को व्हाइट हाउस से निकलते वक्त पत्रकारों से कहा कि किंग ने इसके बारे में कोई जानकारी होने से पूरी तरह इनकार किया. उन्होंने कहा कि मैं (सलमान के) मन की बात में नहीं पड़ना चाहता. लेकिन मुझे ऐसा लगा कि हो सकता है इसके पीछे कुछ शैतान हत्यारे हों. मेरा मतलब है कि किसे पता है? हम इसकी तह तक जल्द ही जाएंगे, लेकिन उन्होंने पूरी तरह इनकार किया.