वॉशिंगटन: सरकारी कामकाज को फिर से ठप होने से बचाने और अमेरिका-मेक्सिको सीमा पर दीवार बनाने को लेकर अमेरिकी सांसदों के बीच समझौता हो गया है. सोमवार की रात हुए इस समझौते के बाद अब राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को दीवार बनाने के लिए महज 1.4 अरब डॉलर की राशि मिलेगी. संसदीय सहयोगियों के मुताबिक, ट्रंप की रिपब्लिकन पार्टी किसी भी सूरत में फिर से सरकारी कामकाज ठप नहीं होने देना चाहती थी. ऐसे में उन्हें दीवार बनाने के लिए मिलने वाली राशि से समझौता करना पड़ा. ट्रंप ने इसके लिए 5.7 अरब डॉलर की मांग की थी लेकिन उन्हें बेहद कम करीब 1.4 अरब डॉलर की राशि मिल रही है.

अमेरिका में कामबंदी खत्म: आखिरकार राष्ट्रपति ट्रंप को झुकना ही पड़ा, नैन्सी पेलोसी की बड़ी जीत

रियो ग्रैंड वैली में दीवार का निर्माण
इस धन से महज 55 मील लंबी बाड़ लग सकती है. यह स्टील की बाड़ होगी जबकि ट्रंप ने कंक्रीट की दीवार बनाने का वादा किया था. व्हाइट हाउस ने दिसंबर में 215 मील लंबी दीवार बनाने की बात कही थी. सोमवार को हुए समझौते से मिली राशि से टेक्सास की रियो ग्रैंड वैली में दीवार का निर्माण किया जाएगा. सीनेट की विनियोग समिति के अध्यक्ष रिचर्ड शेल्बी ने कहा, ‘हमारे बीच सैद्धांतिक सहमति बन गई है.’ सदन की विनियोग समिति की अध्यक्ष नीता लोवी ने कहा, ‘‘हमारे कर्मचारी इसके ब्योरे पर काम कर रहे हैं.’’ इसकी विस्तृत जानकारी औपचारिक रूप से मंगलवार या उसके बाद जारी की जाएगी.

अस्थाई समझौता
गौरतलब है कि सांसदों के बीच यह समझौता इस सप्ताहांत फिर से सरकारी कामकाज ठप पड़ने के खतरे के बीच हुआ है. सहयोगियों का कहना है कि अस्थाई होने के कारण समझौते की जानकारी सार्वजनिक नहीं की जा रही है, उसे अभी गोपनीय रखा जा रहा है. इस समझौते में सीमा पर प्रवेश बिन्दुओं पर बेहतर छंटनी जैसी नई प्रौद्योगिकी का प्रयोग, मानवीय सहायता की डेमोक्रेटिक पार्टी की मांग और अतिरिक्त सीमा शुल्क अधिकारियों की तैनाती आदि को भी शामिल किया गया है. (इनपुट एजेंसी)

अमेरिका में कामबंदी टली, सीमा दीवार पर डेमोक्रेट व रिपब्लिकन के बीच समझौता