वाशिंगटन: अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने उत्तर पश्चिम सीरिया में इस्लामिक स्टेट सरगना अबू बकर अल-बगदादी पर हमले के दौरान घायल हुए सेना के एक कुत्ते को पदक से सम्मानित करते हुए दिखाने वाली एक फर्जी तस्वीर ट्वीट की है. सेना के श्वान दल ने अमेरिका के विशेष बलों के साथ दुनिया के सबसे वांछित आतंकवादी का एक सुरंग में पीछा किया था जिसके बाद शनिवार को बगदादी (48) मारा गया. उसने हमले के दौरान आत्मघाती बेल्ट से खुद को उड़ा लिया था. ट्रंप ने कुत्ते की फोटो के साथ ट्वीट किया और लिखा- ‘अमेरिकी नायक.’ उन्होंने कहा कि इस कुत्ते ने सीरियाई सुरंग में बगदादी के खुद को उड़ाने से पहले उसका पीछा किया था.

द न्यूयॉर्क टाइम्स की एक खबर के मुताबिक, एक रूढ़िवादी वेबसाइट डेली वायर ने यह तस्वीर प्रकाशित की है. असल में यह तस्वीर 2017 की है जब सेना के सेवानिवृत्त चिकित्सक जेम्स मैकक्लॉघन को पदक से सम्मानित किया गया था. इस तस्वीर में छेड़छाड़ की गई है. मैकक्लॉघन को वियतनाम युद्ध के दौरान 10 लोगों की जान बचाने के लिए सम्मानित किया गया.

अमेरिकी राष्ट्रपति ने जो तस्वीर ट्वीट की है उसमें मैकक्लॉघन के सिर के स्थान पर कुत्ते का सिर रख दिया गया है. बेल्जियम के मेलिनोइस नस्ल के इस कुत्ते को मीडिया में ‘कोनन’ कहा जा रहा है. जब टाइम्स के एक रिपोर्टर ने मैकक्लॉघन को दोनों तस्वीरें दिखाई तो उन्होंने ठहाका लगाया. उन्होंने कहा, ‘सेना के कुत्ते बहुत बहादुर होते हैं.’

राष्ट्रपति का ट्वीट कुछ उपयोक्ताओं के लिए हास्य का विषय बन गया जबकि कुछ ने युद्ध के एक नायक की तस्वीर में छेड़छाड़ करने के फैसले या फोटोशॉप की गुणवत्ता पर नाराजगी जताई.