New Zealand Earthquake: दक्षिण प्रशांत क्षेत्र (South Pacific) में शक्तिशाली भूकंप के झटके महसूस किए जाने के बाद महासागर में सुनामी (Tsunami in The Ocean) के खतरे के बीच न्यूजीलैंड में तटीय इलाकों से शुक्रवार को हजारों लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया. हालांकि (National Emergency Management Agency) ने बाद में खतरा टल जाने की बात कहते हुए लोगों को घर लौटने की सलाह दी. Also Read - Earthquake in Japan: जापान में 7.2 तीव्रता का जोरदार भूकंप, सुनामी एडवाइजरी जारी

न्यूजीलैंड (New Zealand) से एक हजार किलोमीटर दूर केरमाडेक द्वीप समूह (Kermadec Islands) पर लगातार कई भूकंप के झटके महसूस किए गए. इस दौरान 8.1 तीव्रता का सबसे शक्तिशाली भूकंप आया था. इसके अलावा 7.4 और 7.3 तीव्रता के भूकंप के झटके भी महसूस किए गए. सुनामी के खतरे के मद्देनजर न्यूजीलैंड में कई जगह सड़कों पर जाम लग गया और अफरातफरी की स्थिति भी उत्पन्न हो गई क्योंकि अधिकतर लोग ऊंचाई वाले स्थानों की ओर जाने की कोशिश कर रहे थे. Also Read - इंडोनेशिया: भीषण सुनामी का कारण बने अनाक क्राकातोआ ज्वालामुखी का आकार दो तिहाई घटा

गिसबोर्न के पास टोकोमारू बे (Tokomaru Bay near Gisborne) सहित कई स्थानों पर स्थानीय लोगों ने छोटी लहरों के वीडियो भी बनाए. राष्ट्रीय आपातकालीन प्रबंधन एजेंसी ने दिन में कहा था कि खतरा टल गया है और लोग अपने-अपने घरों में वापस लौट सकते हैं, लेकिन समुद्र तट पर जाने से बचें. Also Read - इंडोनेशिया सुनामी: मृतकों की संख्या बढ़ कर 429 हुई, तेज बारिश से राहत-बचाव में रुकावट

‘अमेरिकी भूगर्भ सर्वेक्षण’(US Geological Survey) ने कहा कि सबसे शक्तिशाली भूकंप का केन्द्र केरमाडेक द्वीप समूह (Kermadec Islands) के पास 19 किलोमीटर की गहराई पर था. एजेंसी ने एक रिपार्ट में कहा कि इससे पहले 1973 में क्षेत्र में 8.0 तीव्रता का सबसे शक्तिशाली भूकंप आया था.

इनपुट भाषा