वाशिंगटन: डेमोक्रेटिक पार्टी की सांसद तुलसी गबार्ड ने अमेरिका की पूर्व विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन को लेकर विवादित बयान दिया है. गबार्ड ने शुक्रवार को पूर्व विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन को ‘युद्ध भड़काने वाली रानी’ बताया. क्लिंटन ने आरोप लगाया था कि अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव में रूस तीसरे पक्ष के उम्मीदवार के रूप में गबार्ड को तैयार कर रहा है.

गबार्ड ने पिछले साल खुद को राष्ट्रपति चुनाव के लिए उम्मीदवारों की दौड़ में शामिल करने का निर्णय लिया था और हिंदू होने की वजह से वह भारतीय-अमेरिकी लोगों की पसंदीदा उम्मीदवार हैं. क्लिंटन ने शुक्रवार को एक साक्षात्कार के दौरान गबार्ड पर आरोप लगाया था कि रूस उनकी मदद कर रहा है, ताकि वह राष्ट्रपति चुनाव में तीसरे पक्ष के उम्मीदवार के रूप में उभर सकें.

पूर्व विदेश मंत्री ने जाहिर तौर पर गबार्ड का हवाला देते हुए कहा, ‘मैं कोई भविष्यवाणी नहीं कर रही हूं, लेकिन मुझे लगता है कि उनकी नजर (रूस की) ऐसे व्यक्ति पर है जो फिलहाल डेमोक्रेटिक उम्मीदवारों में प्राइमरी दौड़ में हैं और रूस उनकी मदद कर रहा है.’ हालांकि क्लिंटन ने साक्षात्कार के दौरान गबार्ड का नाम नहीं लिया था, लेकिन पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा के पूर्व सहयोगी डेविड प्लुफे ने कहा कि क्लिंटन का मानना है कि तुलसी गबार्ड तीसरे पक्ष की उम्मीदवार बनने जा रही हैं जिसे रूस और ट्रंप ला रहे हैं.

गबार्ड ने जवाबी हमला करते हुए ट्वीट किया, ‘वाह! शुक्रिया हिलेरी क्लिंटन. आप युद्ध भड़काने वाली रानी, भ्रष्टाचार की प्रतिमूर्ति, दुर्गंध का रूप जिसने डेमोक्रेटिक पार्टी को लंबे समय से बीमार कर रखा है और जो अंतत: पर्दे के पीछे से बाहर आ चुके हैं.’ उन्होंने कहा, ‘अब यह स्पष्ट हो गया है कि प्राइमरी (शुरुआती उम्मीदवारों के चयन का चुनाव) आपके और मेरे बीच में है. किसी के पीछे कायराना तरीके से न छिपें. सीधी दौड़ में आइए.’

(इनपुट-भाषा)