तोक्यो: जापान की राजधानी तोक्यो समेत देश के अन्य हिस्सों में प्रचंड तूफान ‘हगिबिस’ से अब तक कम से कम 26 लोगों की मौत हो चुकी है. खबरों के अनुसार तूफान से मूसलाधार बारिश हुई जिससे भयानक बाढ़ आ गई है. 31,000 सैनिकों समेत 100,000 से अधिक बचावकर्ता मूसलाधार बारिश के कारण हुए भूस्खलनों और नदियों में उफान के कारण फंसे लोगों को निकालने के लिए रात में भी काम में जुटे हैं. तूफान की वजह से रग्बी वर्ल्ड कप के कई मैच रद्द कर दिए गए. कई मैचों के समय को आगे बढ़ा दिया गया.

तूफान रविवार सुबह राजधानी के कई हिस्सों तक पहुंच गया और इसने आसपास के इलाकों में अपने पीछे तबाही के निशान छोड़ दिए. सरकार ने मृतकों की संख्या 14 और लापता लोगों की संख्या 11 बतायी है लेकिन स्थानीय मीडिया ने बताया कि कम से कम 26 लोग मारे जा चुके हैं व 15 लोग अब भी लापता हैं.

मध्य जापान के नगानो समेत कई स्थानों पर नदियां उफान पर हैं. सेना और दमकल विभाग के हेलीकॉप्टरों ने कई स्थानों पर लोगों को छतों और बालकनियों से बाहर निकाला. इवाकी सिटी, फुकुशिमा में एक दुखद घटना में एक महिला की हेलीकॉप्टर पर चढ़ते समय गिरकर मौत हो गयी. अन्य जगहों पर नौका अभियान चलाकर सैकड़ों लोगों को बचाया गया.

हाल के वर्षों में सबसे विध्वंसकारी तूफानों में से एक हगिबिस ने शनिवार रात को जापान के मुख्य होन्शू द्वीप पर दस्तक दी. तूफान के आने से 216 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चली. तूफान के चलते जापान की मौसम विज्ञान एजेंसी को उच्च स्तर की वर्षा आपदा की चेतावनी जारी करनी पड़ी. उसने कहा कि ‘‘अभूतपूर्व’’ बारिश की आशंका है.