इस्लामाबाद: संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) ने 2019 के अंत तक पाकिस्तान में एक तेल रिफाइनरी परियोजना में पांच अरब डॉलर का निवेश करने की योजना बनाई है. यूएई के पाकिस्तान में राजदूत हमाद ओबैद इब्राहिम सलेम अल-जाबी ने गुरुवार को अरब न्यूज को बताया, “हम बहुत जल्द हब (बलूचिस्तान में एक शहर) में एक रिफाइनरी परियोजना में बड़ा निवेश करने जा रहे हैं. अबु धाबी की मुबादला पेट्रोलियम कंपनी, पाक अरब रिफाइनरी लिमिटेड (पारको) और ओएमवी के बीच पांच अरब डॉलर का निवेश किया जाएगा.”

पारको तटीय रिफाइनरी देश में संयुक्त अरब अमीरात के प्रमुख निवेशों में से एक है. यह सार्वजनिक लिमिटेड कंपनी के रूप में मई 1974 में पाकिस्तान में शामिल की गई थी.

मुबादला पेट्रोलियम यूएई में स्थित एक अंतरराष्ट्रीय तेल और गैस कंपनी है.

यह योजना एक अत्याधुनिक रिफाइनरी स्थापित करने की है, जिसमें प्रतिदिन 250,000-300,000 बैरल का उत्पादन होगा.

अल-जाबी ने अरब न्यूज को बताया कि यह परियोजना मुबादला पेट्रोलियम, पारको, ओएमवी और पाकिस्तान के पेट्रोलियम मंत्रालय के बीच व्यापक विचार-विमर्श का परिणाम है.

पाकिस्तान तेल और गैस क्षेत्र में स्थानीय और विदेशी निवेश की तलाश में है. देश तेल और गैस की खोज के साथ ही उत्पादन कंपनियों को अच्छी दरों की पेशकश कर रहा है.

(इनपुट आईएएनएस)