संयुक्त राष्ट्र महासभा की अध्यक्ष मारिया फर्नांडा एस्पिनोसा भारत-पाकिस्तान के बीच तनाव वाले हालात को लेकर बेहद चिंतित हैं और दोनों पक्षों से तनाव को और बढ़ाने से बचने का आग्रह किया है. एस्पिनोसा की प्रवक्ता मोनिका ग्रेली ने कहा कि महासभा अध्यक्ष ने इस बात पर जोर दिया कि ‘‘राजनीतिक मतभेदों और राजनीतिक विवादों को सुलझाने के लिए कूटनीतिक तरीका ही सर्वोत्तम है’’ और आशा जतायी कि संबंधित पक्ष मौजूदा हालात से शांतिपूर्ण तरीके से निपटेंगे.

उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने कहा- संयुक्त राष्ट्र तय करे आतंकवाद की परिभाषा

गुरुवार को अपने संवाददाता सम्मेलन में ग्रेली ने कहा कि महासभा अध्यक्ष ‘भारत और पाकिस्तान के बीच मौजूदा हालात को लेकर बहुत चिंतित हैं.’’ पिछले वर्ष महासभा अध्यक्ष का पद संभालने से पहले एस्पिनोसा भारत आई थीं और जनवरी, 2019 में वह पाकिस्तान भी गई थीं. उन्होंने दोनों पक्षों से अनुरोध किया है कि वे तनाव को और बढ़ने से रोकने और भविष्य में जन-हानि से बचने के लिए बातचीत का रास्ता अपनाएं. अंतरराष्ट्रीय समुदाय के अन्य कई नेताओं ने भी भारत-पाकिस्तान के बीच बढ़ते तनाव पर चिंता जताई है. (इनपुट एजेंसी)

सैन्य तनाव के बीच पहली बार आज आमने-सामने होंगे भारत-पाकिस्तान के विदेश मंत्री