संयुक्त राष्ट्र: संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने पुणे में सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया में आग लगने की घटना और उसमें लोगों की जान जाने पर अफसोस जाहिर किया और उम्मीद जताई कि घटना की पूरी जांच की जाएगी. उनके प्रवक्ता ने यह जानकारी दी. Also Read - Tamil Nadu: Firecracker Factory में ब्‍लास्‍ट से मरने वालों का आंकड़ा बढ़कर 19 हुआ

महासचिव के प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक ने बृहस्पतिवार को दैनिक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘हम घटना में लोगों की मौत से दुखी है एवं प्रभावित परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हैं. हमें उम्मीद है कि आग लगने के मामले की पूरी जांच होगी.’’ Also Read - 'कोवीशील्ड' के बाद सीरम इंस्टीट्यूट दूसरी कोरोना वैक्सीन 'कोवोवैक्स' की तैयारी में जुटी, अदार पूनावाला ने दी बड़ी जानकारी

सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के सीईओ आदर पूनावाला ने कहा कि आग की घटना से कोविशील्ड टीकों का उत्पादन प्रभावित नहीं होगा. उल्लेखनीय है कि पुलिस के अनुसार पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के मंजरी परिसर की एक इमारत में बृहस्पतिवार को आग लगने से पांच लोगों की मौत हो गई. Also Read - गणतंत्र दिवस परेड में दिखाई जाएगी कोरोना वैक्सीन 'कोवीशील्ड' और 'कोवैक्सीन' बनाने की प्रक्रिया

कोविड-19 पर नियंत्रण पाने के लिए ‘कोविशील्ड’ टीके का उत्पादन सीरम संस्थान के मंजरी केन्द्र में ही किया जा रहा है. जिस भवन में आग लगी वह सीरम इंस्टीट्यूट की निर्माणाधीन साइट का हिस्सा है और कोविशील्ड निर्माण इकाई से एक किमी दूर है, इसलिए आग लगने से कोविशील्ड के निर्माण पर कोई असर नहीं पड़ा है. महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री अजीत पवार ने कहा कि राज्य सरकार ने आग लगने की घटना की जांच के आदेश दिए हैं.