United Nations On Coronavirus Death: संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस (Antonio Guterres) ने कहा कि कोरोना वायरस (Coronavirus) के कारण 10 लाख से ज्यादा लोगों की मौत एक ‘दुखदायी पड़ाव’ है जिसे इस ‘बीमारी की निर्दयता’ ने और बदतर बना दिया है. महामारी से मौत के आंकड़े के 10 लाख के पार पहुंच जाने के बाद जारी एक बयान में गुतारेस ने इसे ‘स्तब्ध करने वाला आंकड़ा’ करार दिया.Also Read - Covid-19 R Value: कोरोना के R Value में फिर हो रही बढ़ोत्तरी, केरल में सबसे अधिक मामले, जानिए क्या है यह

बयान में उन्होंने कहा, ‘वे माता, पिता, पत्नी, पति, भाई और बहन थे. दोस्त और सहकर्मी थे. इस बीमारी के बरकरार रहने से दर्द कई गुना बढ़ गया है. संक्रमण के जोखिम की वजह से परिवार घरों में ही रह रहे हैं और जीवन में दुख या आनंद मनाना अक्सर असंभव हो रहा है.’ Also Read - केरल बना कोरोना का गढ़, लेफ्ट सरकार की मदद के लिए केंद्र भेजेगी 6 सदस्यीय टीम

गुतारेस ने चेतावनी दी, ‘विषाणु के प्रसार, नौकरियों के जाने और शिक्षा में व्यवधान तथा हमारी जिंदगी में महामारी के कारण आई मुश्किलें खत्म होती नजर नहीं आ रहीं.’ उन्होंने कहा कि इसके बावजूद जिम्मेदार नेतृत्व , सहयोग और विज्ञान के साथ सामाजिक दूरी का पालन करने और मास्क लगाने जैसे ऐहतियात बरतकर इससे बचा जा सकता है. उन्होंने कहा कि कोई भी दवा बनती है तो वह ‘सभी के लिये उपलब्ध व वहनीय होनी चाहिए.’ Also Read - Lockdown in Kerala News: केरल में इन तारीखों को लगेगा फुल लॉकडाउन, केंद्र भेज रहा टीम

बता दें कि भारत में कोरोना वायरस से 96,300 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है, वहीं संक्रमितों का आंकड़ा 61,45,291 है. उधर, दुनिया में कोरोना से अब तक 10 लाख से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है और संक्रमितों का आकंड़ा 3 करोड़ 33 लाख के पार पहुंच गया है.

(इनपुट: भाषा)