अमेरिका के ऑरलैंडो में रविवार को समलैंगिक नाइटक्लब में हुई गोलीबारी में कम से कम 50 लोगों की मौत हो गई और 53 अन्य घायल हो गए। अमेरिका के ऑरलैंडो के समलैंगिक नाइटक्लब में रविवार को हुई गोलीबारी में कम से कम 50 लोगों की मौत हो गई और 53 अन्य घायल हो गए। गोलीबारी करने वाले की पहचान 29 वर्षीय उमर मतीन के रूप में की है। वह फ्लोरिडा के फोर्ट पाएर्स का रहने वाला था। Also Read - Syria is not afraid of US attack | अमेरिका की हमला करने की धमकियों से नहीं डरते: सीरिया

Also Read - INT us warned pak that it will not hesitate to destroy terror networks | पाकिस्तान को हिदायत,घर में घुसकर मारेंगे आतंकियों को : अमेरिका

यह भी पढ़े: अमेरिका में 9/11 के बाद सबसे बड़ा आतंकी हमला, IS के आतंकी ने 53 लोगो को मारा Also Read - india can only bark their products cant compete chinese state media | चीनी सामान का बहिष्कार करने की अपील पर भड़का चीन, कहा- भारत सिर्फ 'भौंक' सकता है

प्राप्त जानकारी की अनुसार हमले से पहले मतीन ने 911 पर कॉल कर कहा था की वह IS का आतंकी है। मतीन के पिता ने कहा की वह गे कपल्स को देखकर भड़क जाता था। मतीन के पिता सिद्दीकी ने कहा की कहा, ”वह जब देखता था कि दो मेल किस कर रहे हैं, तो वह बहुत गुस्से में आ जाता था। इस हमले को धर्म से जोड़कर नहीं देखना चाहिए।” उन्होंने आगे कहा, ”मियामी में हाल में ही एक गे कपल को गले लगते हुए देख कर उमर भड़क गया था। हो सकता है कि इसीलिए उसने नाइट क्लब में ऐसी हरकत की।”

इसबीच एक प्रत्यक्षदर्शी ने बताया, “हमने कई बार गोलियां चलने की आवाजें सुनी। जिस कमरे में मैं था, वहां लोग फर्श पर लेट गए। मैं हमलवार को नहीं देख पाया। कुछ देर के लिए गोली की आवाज आनी रुक गई। हम लोगों में से एक दल उठा और बाहर गया। उसके बाद हमें बाहर निकलने का रास्ता मिला. मैं दौड़ गया।”

वर्ष 2015 में अमेरिका में गोलीबारी की ऐसी घटनाएं जिनमें चार या उससे अधिक लोग मारे गए या घायल हुए 372 हुई थीं। उनमें कुल 475 लोगों की मौत हुई और 1870 घायल हुए थे।

ऑरलैंडो में 22 वर्षीया गायिका क्रिस्टिना ग्रिमी की भी कंसर्ट के दौरान गोली मारकर हत्या कर दी गई।