अमेरिका के अलाबामा राज्य के एक हाई स्कूल में बुधवार को फिर एक बार गोलीबारी हुई जिसमें एक छात्रा की मौत हो गई जबकि 17 वर्षीय छात्र घायल हो गया. सीबीएस के संबद्ध डब्ल्यूआईएटी-टीवी के मुताबिक, इनमें से एक छात्र ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया, जबकि दूसरे की हालत स्थिर है. जांचकर्ताओं ने घटना में प्रयुक्त बंदूक बरामद कर ली है. Also Read - पीएम मोदी और डोनाल्‍ड ट्रंप के बीच भारत-चीन बॉर्डर की स्थिति को लेकर हुई बातचीत

स्कूल के पदाधिकारियों का कहना है कि गोलीबारी के कारण स्कूल को कुछ देर के लिए बंद करना पड़ा, लेकिन बाद में विद्यार्थियों को घर भेज दिया गया. अधिकारियों ने इसकी पुष्टि की है कि गोलीबरी ‘‘स्कूल में बाहर से आये किसी व्यक्ति’’ ने नहीं की है. हालांकि उन्होंने यह बताने से इनकार कर दिया की गोली किसने चलायी और उसमें कैसा बंदूक इस्तेमाल हुआ. पुलिस ने स्थानीय मीडिया के पहले बताया था कि यह दुर्घटना प्रतीत होता है. Also Read - नस्लवाद के खिलाफ आवाज उठाए क्रिकेट जगत, वर्ना वो भी है समस्या का हिस्सा : सैमी

बता दें कि पिछले महीने ही अमेरिका के फ्लोरिडा के एक स्कूल में हुई गोलीबारी की घटना में 17 लोग मारे गए थे जिनमें से ज्यादातर छात्र थे. इस हादसे के बाद राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने स्कूल में शिक्षकों को बंदूक देने की पैरवी की थी . ट्रंप ने स्कूल में इस तरह की घटनाओं से बचने के लिए स्कूली शिक्षकों एवं कर्मचारियों के पास बंदूक रखने के प्रति समर्थन जताया था. ट्रंप ने कहा था, “यदि आपके शिक्षक के पास बंदूक होती, तो वह इस हमले को बहुत जल्दी खत्म कर सकते थे.” Also Read - डोनाल्‍ड ट्रंप का ऑफर, भारत ने कहा- चीन के साथ सीमा विवाद पर बातचीत कर रहे हैं

भाषा इनपुट