बीजिंग: अमेरिका और चीन के बिगड़ते व्यापारिक संबंधों के बीच अमेरिका का एक प्रतिनिधिमंडल उपमंत्री स्तरीय व्यापार वार्ता में भाग लेने के लिए अगले हफ्ते चीन का दौरा करेगा. इस बाबत शुक्रवार को जानकारी दी गई. यह वार्ता  चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच हुए समझौते पर आधारित होगी.

दिसंबर समझौते पर आधारित वार्ता
बता दें कि यह वार्ता दोनों देशों के बीच व्यापारिक गतिरोध दूर करने के लिए साल 2018 की शुरुआत से आरंभ हुई थी. मीडिया रिपोर्ट्स में वाणिज्य मंत्रालय के एक बयान के हवाले से बताया कि अमेरिका के उप व्यापार प्रतिनिधि जेफरी गेरिश की अगुवाई में प्रतिनिधिमंडल चीन के कार्यकारी समूह के साथ बातचीत के लिए सात से आठ जनवरी के बीच यहां होगा. वार्ता राष्ट्रपति शी जिनपिंग और उनके अमेरिकी समकक्ष डोनाल्ड ट्रंप के बीच दिसंबर में हुए समझौते पर आधारित है. ब्यूनस आयर्स में जी20 शिखर सम्मेलन के मौके पर एक दिसंबर को हुई बैठक में शी और ट्रंप ने चल रहे व्यापार विवाद में अपने मतभेदों पर बातचीत करने के लिए 90 दिन के समझौते पर सहमति व्यक्त की थी.

चीन के रवैये से डरा अमेरिका, चीन की यात्रा करने वाले नागरिकों के लिए जारी की ‘एडवाईजरी’

आगामी बैठक को लेकर दोनों पक्षों द्वारा पुष्टि की गई है. वाणिज्य मंत्रालय ने पिछले हफ्ते कहा था कि शी और ट्रंप के बीच अर्जेटीना में हुए समझौते के संदर्भ में व्यापक सहमति को लागू करने के लिए अमेरिका के साथ चीन काम करने की तैयारी कर रहा था. एक जनवरी को चीन और अमेरिका ने दोनों देशों के बीच राजनयिक संबंधों की स्थापना की 40वीं वर्षगांठ पर एक-दूसरे को बधाई दी थी. लेकिन अभी अमेरिका ने चीन यात्रा को लेकर अपने नागरिकों को अलर्ट भी किया है. (इनपुट एजेंसी)

Huawei CFO की गिरफ्तारी का मामला: कनाडा का चीन से वादा ‘ईमानदारी’ से होगी कारवाई

विश्व की अन्य खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें