क्लीवलैंड: अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने नवंबर में होने वाले वाले राष्ट्रपति पद के चुनाव में डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार एवं अपने प्रतिद्वंद्वी जो बाइडेन पर ओहायो में अपनी चुनाव प्रचार मुहिम के दौरान निजी हमला किया और ईश्वर पर जो बाइडेन की आस्था को लेकर सवाल उठाए. Also Read - Coronavirus Vaccine Updates: ट्रंप को उम्मीद- अप्रैल 2021 तक 'हर अमेरिकी' के लिए पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध होगी Covid-19 Vaccine

ट्रंप ने बाइडेन के बारे में कहा, ”वह कट्टरपंथी वाम एजेंडे का पालन कर रहे हैं, अपनी बंदूकों को फेंक दीजिए, अपने दूसरे संशोधन को नष्ट कर दीजिए, कोई धर्म नहीं, बाइबल को नुकसान पहुंचाओ, ईश्वर को नुकसान पहुंचाओ. वह ईश्वर के खिलाफ हैं. वह बंदूकों के खिलाफ हैं. वह हमारी ऊर्जा के खिलाफ हैं. मुझे नहीं लगता कि वह ओहायो में अच्छा प्रदर्शन कर पाएंगे.’’ Also Read - ट्रंप ने दिए टिकटॉक और वी चैट ऐप को बैन करने के आदेश, अमेरिका में नहीं किये जा सकेंगे डाउनलोड

बाइडेन ने ट्रंप की टिप्पणी की कड़ी निंदा करते हुए कहा, ” मेरी आस्था पर हमला करना राष्ट्रपति ट्रंप के लिए शर्म की बात है.” पूर्व उपराष्ट्रपति बाइडेन ने कहा कि उनकी आस्था उनके जीवन का आधार रही है और उसने दुख के समय में उन्हें सुकून दिया है. Also Read - 'अमेरिका-भारत संबंधों को मजबूत करना बाइडेन प्रशासन की प्राथमिकता होगी'

बाइडेन ने कहा, ”दूसरों को परेशान करने वाले अन्य असुरक्षित लोगों की तरह राष्ट्रपति ट्रम्प का यह बयान किसी ओर के बारे में बताने के बजाए यह दर्शाता है कि वह स्वयं कैसे व्यक्ति हैं.’’

बाइडेन ने कहा, ”ये शब्द दर्शाते हैं कि यह व्यक्ति राजनीतिक लाभ के लिए कितना भी नीचे गिर सकता है.” ट्रंप ने ओहायो में प्रचार मुहिम के दौरान व्यापार को प्रोत्साहित करने के उनके प्रयासों का भी जिक्र किया.