US Iran tension: ईरान-अमेरिका के बीच तनाव और भी बढ़ गया है. ईरान ने अमेरिकी सैन्य ठिकानों पर एक के बाद एक 12 बैलेस्टिक मिसाइल्स से हमला किया. इस बारे में ईरानी मीडिया का कहना है कि इस हमले में 80 अमेरिकियों की मौत हुई है. बता दें कि यह हमला ईरान ने बदले के इरादे से किया है. बीते दिनों अमेरिका ने डोनाल्ड ट्रंप के आदेश पर ईरानी रेव्ल्युशनरी गार्ड के कमांडर कासिम सुलेमानी को मार गिराय था. अमेरिका ने दावा किया था कि सुलेमानी आतंकवादी है और उन्होंने एक आतंकवादी को मारा है. वहीं ईरान का कहना था कि वह ईरानी सेना का कमांडर था ना कि आतंकवादी. सुलेमानी की मौत को लेकर ईरानी ने अमेरिका को धमकी भी दी थी. ईरान ने कहा था कि वह अमेरिका से सुलेमानी के मौत का बदला जरूर लेगा. Also Read - US Capitol Lockdown: अमेरिकी संसद के बाहर कार ने पुलिस अधिकारियों को मारी टक्कर, यूएस कैपिटॉल में लगा लॉकडाउन

गौरतलब है कि अमेरिकी ईरान के बीच काफी लंबे समय से तनाव चल रहा है. इस बीच ईरानी हमले से मामला और गरमा गया है. ईरानी मीडिया के अनुसार, ईरानी की तरफ से किए गए हमले में 80 अमेरिकी लोगों की जान गई है. बता दें कि ईरान ने यह हमला इराक स्थित अमेरिकी सैन्य ठिकानों पर की है. वहीं कुछ ही वक्त पहले ईरान की राजधानी तेहरान में एक विमान दुर्घटनाग्रस्त भी हो गया. इस घटना में कुल 170 लोगों की मौत हुई है. Also Read - डोनाल्ड ट्रंप के समय के एच-1बी वीजा प्रतिबंध समाप्त हुए, भारतीय आईटी पेशेवरों को राहत

इस लिहाज से अमेरिका ने सतर्कता बरतते हुए अमेरिकी एयरलाइन्स के खाड़ी देशों के उपर उड़ान भरने पर पाबंद लगा दी है. वहीं भारत ने भी अपने एयरलाइन कंपनियों को हिदायत दी है कि वह खाड़ी देशों के उपर उड़ान भरने से बचे साथ ही भारतीय नागरिकों को इराक की गैरजरूरी यात्रा से भी बचने को कहा गया है. Also Read - Most Powerful Army in The World 2021: 'अगर युद्ध हुआ तो समुद्र में चीन जीतेगा, वायु क्षेत्र में अमेरिका और जमीन पर रूस'; जानिए कहां है भारत