वॉशिंगटन: अमेरिकी मध्यावधि चुनाव को लेकर सरगर्मियां तेज हो गई गई हैं. ऐसे में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने बुधवार को कहा कि अमेरिका-मेक्सिको सीमा पर तैनात किए जाने वाले सैनिकों की संख्या बढ़कर 15 हजार तक पहुंच सकती है. मध्यावधि चुनाव से पहले आप्रवासियों को लेकर बेहद कठोर रुख अपनाते हुए राष्ट्रपति ट्रम्प ने यह बात कही है.

हमारी सेना वहां मौजूद है
मंगलवार को होने वाले चुनाव के जरिए ट्रंप अमेरिकी कांग्रेस में रिपब्लिकन पार्टी का बहुमत बनाए रखने का प्रयास कर रहे हैं. इसी सिलसिले में उन्होंने आप्रवासियों से जुड़ी तमाम घोषणाएं की हैं. 2016 में राष्ट्रपति चुनावों के दौरान ट्रंप का समूचा प्रचार अभियान सीमा पर डर और आप्रवासियों के खिलाफ था. ट्रंप ने बुधवार को कहा, ‘‘जहां तक बात काफिले की है, हमारी सेना वहां मौजूद है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘हमारे करीब 5,800 सैनिक वहां मौजूद हैं. सीमा पर बॉर्डर पेट्रोल, आईसीई और अन्य के तहत सैनिकों की संख्या बढ़कर 10 से 15 हजार के बीच पहुंच सकती है.

हालांकि, ट्रंप ने इस बात से इनकार किया कि वह इसका उपयोग राजनीतिक लाभ के लिए कर रहे हैं, लेकिन प्रचार के दौरान बार-बार इस मुद्दे का जिक्र होना इससे विपरीत स्थिति को दर्शाता है. ट्रम्प ने मध्यावधि चुनाव को लेकर एक वीडियो साझा करते हुए रिपब्लिकन पार्टी को वोट करने की अपील की. (इनपुट एजेंसी)

श्रीलंका का सियासी संकट: राष्ट्रपति सिरिसेना ने संसद से निलंबन हटाया, बुलाई बैठक