वॉशिंगटनः अमेरिका ने भारतीय वायुसेना के पायलट विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान को भारत को सौंपने के पाकिस्तान के फैसले का बृहस्पतिवार को स्वागत किया. अभिनंदन इस समय पाकिस्तान की हिरासत में हैं. ऐसे में अब सवाल उठने लगा है कि क्या इस कदम से पाकिस्तान के पीएम इमरान खान अमेरिकी वाहवाही लूटने में कामयाब हो गए हैं.

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने संसद के संयुक्त सत्र में बृहस्पतिवार को अचानक घोषणा की कि शांति की पहल करते हुए अभिनंदन को शुक्रवार को रिहा किया जाएगा. पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा के पास दोनों पक्षों की वायु सेनाओं के बीच मुठभेड़ के बाद बुधवार को अभिनंदन को उस समय पकड़ लिया था, जब उनका मिग 21 लड़ाकू विमान गिर गया था.

अमेरिकी विदेश मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने खान की घोषणा को संबंध में पूछे गए एक प्रश्न के उत्तर में कहा, ‘‘हम पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की इस प्रतिबद्धता का स्वागत करते हैं कि पाकिस्तान उसकी हिरासत में बंद भारतीय पायलट को शुक्रवार को रिहा करेगा.’’ उन्होंने कहा, ‘‘अमेरिका दोनों पक्षों से अनुरोध करता है कि वे प्रत्यक्ष वार्ता करके और अन्य माध्यमों से तनाव कम करने के लिए तत्काल कदम उठाएं. सैन्य गतिविधि से हालात और बिगड़ेंगे.’’

प्रवक्ता ने कहा, ‘‘हम पाकिस्तान से फिर अपील करते हैं कि वह अपने देश में आतंकवादियों की पनाहगाह को नष्ट करके संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रति अपनी प्रतिबद्धताओं को पूरा करे.’’ सदन में बहुमत के नेता स्टेनी होयर और अन्य सांसदों ने भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ने पर चिंता व्यक्त की.