वॉशिंगटन: यूएस प्रेसिडेंट डोनाल्ड ट्रंप ने नॉर्थ कोरिया नेता किम जोंग उन के साथ सिंगापुर में 12 जून को शिखर वार्ता की पुष्टि की है. उन्होंने कहा,” हम 12 जून को सिंगापुर में चेयरमैन (किम जोंग उन) से मुलाकात कर रहे हैं.” यूएस प्रेसिडेंट  ने कहा कि वार्ता कोरियाई प्रायद्वीप के निरस्त्रीकरण की प्रक्रिया शुरू करेगी . ट्रंप ने उत्तर कोरियाई दूत किम योंग चोल के साथ व्हाइट हाउस के ओवल ऑफिस में करीब 80 मिनट तक चली बैठक के बाद यह घोषणा की. ट्रंप ने इस दौरान नॉर्थ कोरिया के नेता किम के लिए चेयरमैन शब्द का उपयोग किया.

चोल ने उत्तर कोरियाई नेता का एक पत्र ट्रंप को सौंपा. बता दें कि चोल न्यूयॉर्क में अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओं के साथ दो दिन तक चली बातचीत के बाद वॉशिंगटन डीसी पहुंचे थे.

सिंगापुर में 12 जून को चेयरमैन से मुलाकात
यूएस प्रेसिडेंट  ने कहा, ”हम 12 जून को सिंगापुर में चेयरमैन (किम जोंग उन) से मुलाकात कर रहे हैं. अंतत : यह सफल प्रक्रिया होने जा रही है.”

मैंने कभी बैठक रद्द नहीं की
एक सवाल के जवाब में ट्रंप ने कहा कि उन्होंने कभी बैठक रद्द नहीं की और किम जोंग उन को उनका पत्र कोरियाई नेता की तरफ से आ रहे बयानों का जवाब था.

अचानक बुलाई प्रेस कॉन्फ्रेंस
नॉर्थ कोरियाई दूत के रवाना होने के बाद व्हाइट हाउस में अचानक प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाई गई. इसमें ट्रंप ने कहा, ”बैठक बहुत अच्छी रही. हम सिंगापुर में 12 जून को बैठक करेंगे. यह अच्छे तरीके हुआ. यह एक तरह से उन्हें जानने – समझने की स्थिति है.”

यह सकारात्मक बात
ट्रंप ने कहा कि कोरियाई प्रायद्वीप का परमाणु निरस्त्रीकरण लंबी प्रक्रिया है. उन्होंने कहा, मुझे लगता है कि यह एक प्रक्रिया होगी. मैंने कभी नहीं कहा कि यह एक बैठक में होगा. लेकिन रिश्ते बन रहे हैं और यह सकारात्मक बात है.

मुझे कोई शक नहीं
अमेरिकी राष्ट्रपति ने इस बात पर भरोसा जताया कि उत्तर कोरियाई लोग भी यही लक्ष्य हासिल करना चाहते हैं. उन्होंने कहा, मुझे लगता है कि वे यह चाहते हैं और वे इसके साथ अन्य चीजें भी चाहते हैं. वे एक देश के तौर पर विकास करना चाहते हैं. यह होने जा रहा है. इसमें मुझे कोई शक नहीं है.

जापान और साउथ कोरिया भी इसमें शामिल
ट्रंप ने कहा कि इस क्षेत्र के देश जापान और साउथ कोरिया भी इसमें शामिल हैं.

ट्रंप बोले- चीनी राष्ट्रपति ने मेरी काफी मदद की
अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, ”हर कोई अमेरिका बनना चाहता है. हम इस प्रक्रिया में मदद करने जा रहे हैं. हमारे बिना यह नहीं होगा. लेकिन मुझे लगता है कि आप चीन समेत कई सकारात्मक बातें देखेंगे. मुझे लगता है कि आपने राष्ट्रपति शी के साथ कई सकारात्मक चीजें देखी. शी ने इसमें मेरी काफी मदद की.”

ये एक शुरुआत, परिणाम मिलेंगे
यूएस प्रेसिडेंट ट्रंप ने इस बात की पुष्टि की कि शिखर वार्ता 12 जून को सिंगापुर में होगी. उन्होंने कहा, ”यह एक शुरुआत होगी. मैंने कभी नहीं कहा कि यह एक बैठक में होगा. आप कई अलग – अलग देशों के साथ वर्षों के द्वेष , समस्याओं और नफरत की बात कर रहे हैं, लेकिन मुझे लगता है कि अंत में आपको सकारात्मक परिणाम मिलेंगे.” (इनपुट- एजेंसी)