नई दिल्लीः दुनिया में कोरोना वायरस(Coronavirus) की सबसे बड़ी मार पड़ी है. हमेशा तेज रफ्तार से चलने वाला यह देश कोविड-19 के चलते थम सा गया है और हर जगह सिर्फ और सिर्फ मौत का साया है. अमेरिका(America) में इस लगभग 12 लाख लोग कोरोना वायरस से संक्रमित है जबकि इससे 68 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है. इस बीच राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप(Donalt Trump) ने कहा कि उन्हें विश्वास है कि साल के अंत तक अमेरिका कोरोनावायरस की वैक्सीन(coronavirus vaccine) बनाने में सफल हो जाएगा. Also Read - अमेरिका में कोरोना वायरस से 1,00,000वें व्यक्ति की मौत, 500 से अधिक भारतीय भी हुए आकाल मौत के शिकार

एक निजी चैनल से बात करते हुए राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि पूरा देश डटकर कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई कर रहा है और मुझे विश्वास है कि हम साल के अंत तक इसका तोड़ तलाश लेंगे. उन्होंने कहा कि हमारे वैज्ञानिक दिन रात इस पर काम कर रहे हैं. इसी के साथ उन्होंने कहा कि मैं सितंबर या अक्टूबर माह में स्कूल भी खोलने पर विचार करूंगा ताकि बच्चों की पढ़ाई का नुकसान न हो. Also Read - डोनाल्ड ट्रम्प ने मध्यस्थता की पेशकश की, चीन बोला- हालात 'पूरी तरह स्थिर और नियंत्रण-योग्य हैं'

डोनाल्ट ट्रंप ने कहा कि इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि कौन देश वैक्सीन बनाने में सफल होता है. अभी हमारे नागरिकों की जान कीमती है. इसलिए कोई दूसरा देश अगर अमेरिका से पहले वैक्सीन बनाने में सफल हो जाता है तो मुझे इस बात पर बेहद खुशी होगी. उन्होंने कहा कि मैं बस य चाहता हूं कि ये मौतों को सिलसिला जल्द से जल्द रुके.

आपको बता दें कि दुनिया भर के तमाम देश कोरोना वायरस की वैक्सीन खोजने के काम पर लगे हुए कई देशों में इसके ट्रायल भी हो रहे हैं. अमेरिका ने भी इसके ट्रायल किए हैं. कई देशों से इस बात की उम्मीद जताई जा रही है कि इस साल के अंत तक कोरोनावायरस की वैक्सीन खोज ली जाएगी.