नई दिल्ली: पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर गहरा शोक प्रकट करते हुए बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने कहा कि वे भारत के महान सपूतों में से एक थे और आम लोगों से जुड़े मुद्दों को रेखांकित करने तथा सुशासन में उनके योगदान को सदैव याद रखा जाएगा. Also Read - इस वजह से सुर्ख़ियों में हैं अदिति राव हैदरी, खूब हो रही है तारीफ, जानें क्या है मामला   

Also Read - ज्योतिरादित्य सिंधिया के निजी सहायक कोरोना संक्रमित, ग्वालियर में चल रहा इलाज

VIDEO: जब Atal Bihari Vajpayee ने गाया ‘गीत नहीं गाता हूं…’, सुनकर भर आंएगे आंखों में आंसू… Also Read - Coronavirus in Mumbai Update: महामारी ने मचाई आफत, मौत और संक्रमितों की संख्या चीन से अधिक

वाजपेयी के दुखद निधन से हम स्तब्ध हैं: शेख हसीना

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को भेजे शोक संदेश में बांग्लादेश की प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘ भारत के महान सपूतों में से एक, पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के दुखद निधन से हम स्तब्ध हैं. ’’ उन्होंने कहा कि वाजपेयी ने क्षेत्रीय शांति और समद्धि के लिये भी काम किया. शेख हसीना ने कहा कि भारत के लोगों के कल्याण के लिये उनका अथक परिश्रम आने वाली पीढ़ियों के नेताओं को भी प्रेरित करेगा. वे शानदार वक्ता और कवि थे और भारत में समावेशी विकास की पहल में उन्होंने महत्वपूर्ण योगदान दिया.

LIVE: अटल की अंतिम यात्रा में जनसैलाब, पैदल ही चल रहे हैं मोदी-शाह

बांग्लादेश की प्रधानमंत्री ने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी हमारे महान मित्र थे और बांग्लादेश में उन्हें बहुत सम्मान भरी नज़र से देखा जाता था. 1971 के बांग्लादेश मुक्ति संग्राम में अमूल्य योगदान के संदर्भ में बांग्लादेश सरकार ने उन्हें बांग्लादेश मुक्ति संग्राम सम्मान प्रदान किया था. उन्होंने कहा ‘‘ आज निश्चित तौर पर बांग्लादेश में हम सभी के लिए यह गहरे दुख की घड़ी है. इस दुखद घड़ी में मैं बांग्लादेश के लोगों और अपनी ओर से गहरी संवेदना प्रकट करती हूं.’’ (इनपुट एजेंसी)