संयुक्त राष्ट्रः वीडियो गेम भी अब पर्यावरण के अनुकूल होते जा रहे हैं और कुछ बड़ी कंपनियों को उम्मीद है कि वीडियो गेम खेलने वाले भी इसका ध्यान रखेंगे. प्लेस्टेशन, एक्सबॉक्स, एंग्री बर्ड, माइनक्राफ्ट, ट्विच और अन्य वीडियो गेम और प्लेटफार्म ने सोमवार को संयुक्त राष्ट्र में प्रतिज्ञा की कि वह जलवायु परिवर्तन से जुड़ी चुनौतियों से लड़ने के लिए अपने प्रयास बढ़ाएंगे और इसमें उपयोगकर्ताओं को भी शामिल किया जाएगा.

थनबर्ग सहित 16 युवा कार्यकर्ताओं ने संयुक्त राष्ट्र में पांच देशों के खिलाफ दर्ज कराई शिकायत

इसके तहत उन्होंने पेड़ लगाने से लेकर पैकेजिंग में कम प्लास्टिक का इस्तेमाल करने जैसे कई वादे किए हैं. गेम डिवाइस को इस तरह बनाया जाएगा, ताकि उसमें ऊर्जा की खपत कम हो. इसके साथ ही गेम की थीम में भी पर्यावरण को शामिल किया जाएगा.

UN में जलवायु परिवर्तन पर 16 साल की बच्ची का जोरदार भाषण, कहा- बंद कीजिए धोखा देना, हम माफ नहीं करेंगे

सोनी इंटरेक्टिव इंटरटेनमेंट के सीईओ जिम रेयान ने संयुक्त राष्ट्र महासभा की बैठक के अवसर पर कहा, “मुझे विश्वास है कि गेम और गेम खेलने वाले सामाजिक बदलाव के वाहक बन सकते हैं और मुझे यह देखकर खुशी होगी कि हमारा वैश्विक समुदाय अपनी धरती को बचाने के लिए एकजुट है.”

अमेरिका में भरे मंच पर इमरान खान की हुई भारी किरकिरी, ट्रंप ने पूछा- कहां से लाते हो ऐसे पत्रकार

रेयान ने कहा कि सोनी की योजना है कि अगली पीढ़ी के प्लेस्टेशन सिस्टम में ऊर्जा की खपत कम हो. उन्होंने कहा कि अगर 10 लाख लोग इसका इस्तेमाल करते हैं तो वह औसतन 1000 अमेरिकी घरों में खर्च होने वाली बिजली के बराबर बचत करेंगे. संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम के तहत 21 कंपनियों ने मंगलवार को गेमिंग को पर्यावरण के अनुकूल बनाने की प्रतिबद्धता जताई.

शराब पीने के बाद होने वाली खुमारी अपने आप में है एक बीमारीः कोर्ट

मार्शल द्वीप समूह के पर्यावरण मंत्री डेविड पॉल ने गेमिंग कंपनियों के सीईओ से कहा कि एक अनुमान के मुताबिक दुनिया भर में दो अरब से अधिक वीडियो गेम खेले जाते हैं, “ये लामबंदी के लिए दुनिया में सबसे ताकतवर माध्यम है.” धरती का तापमान बढ़ने के कारण समुद्र का जलस्तर बढ़ने से उनके देश के सामने अस्तित्व का संकट है. गूगल की आगामी स्टेडिया स्ट्रीमिंग सेवा एक शोध के लिए वित्त पोषण कर रही है कि गेम के जरिए लोगों को व्यवहार में बदलाव के लिए कैसे प्रेरित किया जा सकता है.