लंदन: दुनिया के रहने लायक शहरों की सूची में भारत समेत दक्षिणी एशियाई देशों का प्रदर्शन बहुत निराशाजनक रहा. कुल 140 शहरों की सूची में देश की राजधानी दिल्ली 112वें और मुंबई 117वें पायदान पर है. ऑस्ट्रिया का वियना शहर इस सूची में शीर्ष पर रहा. ‘द इकोनॉमिस्ट मैगजीन’ द्वारा जारी वार्षिक वैश्विक लिवेबिलिटी सूचकांक में पाकिस्तान की वित्तीय राजधानी कराची और बांग्लादेश की राजधानी ढाका को दुनिया में सबसे कम रहने लायक शहरों में रखा गया है. सीरिया की राजधानी दमिश्‍क को सूची में सबसे नीचे रखा गया है.
ईयूआई के मुख्य अर्थशास्त्री औरएशिया के प्रबंध निदेशक सिमॉन बापतिस्त ने कहा, “सूचकांक में दक्षिण एशियाई शहरों का प्रदर्शन खराब रहा. 6 शहरों में हमने दिल्ली (112) को शीर्ष पर और उसके बाद मुंबई (117) को रखा है. Also Read - Coronavirus in Maharashtra Update: 50 हजार के पार पहुंची संक्रमितों की संख्या, 1600 से अधिक की मौत

ये हैं वर्ल्ड में रहने लायक टॉप शहर
इकोनॉमिस्ट इंटेलिजेंस यूनिट (ईयूआई) की रिपोर्ट में 10 शीर्ष शहरों में ये हैं:-
1- वियना
2- मेलबर्न
3. ओसाका
4. कैलगरी
5. सिडनी
6. वैंकूवर
7. टोक्यो
8. टोरंटो
9. कोपेनहेगन
10. एडिलेड Also Read - अब मुंबई से भी शुरू होंगी घरेलू उड़ानें, महाराष्ट्र सरकार ने हर रोज 25 उड़ानों को दी इजाजत

ये हुआ पहली बार
यह पहली बार है कि जब किसी यूरोपीय शहर को पहली बार रैंकिंग में शीर्ष पर रखा गया है. Also Read - सीएम योगी आदित्यनाथ को बम से उड़ाने की धमकी देने वाले शख्स को पुलिस ने मुंबई से किया गिरफ्तार

ये हैं मानक
शहरों की रैकिंग राजनीतिक और सामाजिक स्थिरता, अपराध, शिक्षा और स्वास्थ्यसेवा तक पहुंच समेत कई कारकों के आधार पर की गई है.