Also Read - संयुक्त राष्ट्र जलवायु वार्ता: ग्रेटा थनबर्ग ने फिर दिखाई नाराजगी, कहा- विश्व के नेता सच से डरते हैं

Also Read - PM मोदी आज यूएस के टॉप-5 सीईओ के साथ भारत में कारोबारी अवसरों पर करेंगे चर्चा

वाशिंगटन: अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव की दौड़ में रिपब्लिकन की ओर से प्रतिष्ठित बुश खानदान ने भी उम्मीदवारी के लिए दस्तक दे दी है। उल्लेखनीय है कि बुश खानदान से अमेरिका में अबतक दो राष्ट्रपति निर्वाचित हो चुके हैं। एक जॉर्ज एच. डब्ल्यू. बुश और दूसरे जॉर्ज डब्ल्यू. बुश। अब तीसरे बुश भी राष्ट्रपति बनने की दौड़ में शामिल हो गए हैं। इनका नाम जॉन एलिस ‘जेब’ बुश है, और इन्हें जेब बुश के नाम से भी पुकारते हैं। जेब, जॉर्ज डब्ल्यू. बुश के छोटे भाई और जॉर्ज एच. डब्ल्यू. बुश के बेटे हैं। यदि बुश रिपब्लिकन उम्मीदवार बनाए जाते हैं तो संभावित डेमोक्रेट उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन से उनकी टक्कर हो सकती है। यह भी पढ़े:ब्रिटेन में 103 साल के दूल्हे ने रचाई 91 साल की दुल्हन से शादी Also Read - PM Modi US Visit: प्रधानमंत्री मोदी वॉशिंगटन पहुंचे, लोगों ने त‍िरंगा लहराते हुए क‍िया भव्‍य स्‍वागत

जेब बुश ने सोमवार को फ्लोरिडा के मियामी में यह घोषणा की। उन्होंने कहा, “अमेरिका बेहतर का हकदार है। हम वाशिंगटन को समस्याओं से मुक्त करेंगे।” बुश ने कहा, “मेरे सामने प्रश्न यही है कि मैं इसके बारे में क्या करने जा रहा हूं। मैंने फैसला किया है कि मैं अमेरिका के राष्ट्रपति पद का एक उम्मीदवार हूं।”

उनके संबोधन के बीच में पीली कमीज पहने प्रदर्शनकारियों ने उन्हें बीच में रोका। इन प्रदर्शनकारियों की कमीज पर लिखा था, ‘कानूनी दर्जा पर्याप्त नहीं है।’ ये लोग आव्रजन नियमों में सुधार की मांग कर रहे थे। बुश ने अपने पूर्व निर्धारित भाषण से अलग हटते हुए राष्ट्रपति बराक ओबामा की खिल्ली उड़ाई और कहा कि राष्ट्रपति के रूप में उन्हें एक कार्यकारी आदेश के जरिए समस्या सुलझाने के बजाए अर्थपूर्ण आव्रजन सुधार पारित करना चाहिए था।

उन्होंने स्वयं को रिपब्लिकन पार्टी के अन्य उम्मीदवारों से अलग रखने की कोशिश करते हुए डेमोक्रेटिक पार्टी की ओर से राष्ट्रपति चुनाव में उम्मीदवारों की कतार में अग्रणी हिलेरी क्लिंटन पर भी निशाना साधा। बुश राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के लिए रिपब्लिकन पार्टी की ओर से 11वें दावेदार हैं। बुश ने कहा, “किसी की बारी नहीं है। यह सबकी परीक्षा है और यह खुला है कि किस तरह से राष्ट्रपति पद का चुनाव लड़ना चाहिए।”

इस महीने की शुरुआत में जारी हुए सीएनएन/ओआरसी चुनावी सर्वेक्षण में पता चला है कि बुश राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार की दौड़ में स्पष्टत: आगे नहीं है। सर्वेक्षण में शामिल 10 प्रतिशत लोगों का कहना है कि वे विस्कॉन्सिन के गवर्नर स्कॉट वॉकर और अरकांसस के पूर्व गवर्नर माइक हकाबी को समर्थन देने की योजना बना रहे हैं। हिलेरी क्लिंटन को टक्कर देने के मामले में बुश पिछड़ते दिख रहे हैं। हिलेरी को जहां 51 प्रतिशत लोगों का समर्थन मिलता दिख रहा है, वहीं बुश को 43 प्रतिशत लोगों का समर्थन प्राप्त है। जेब बुश को पता है कि राष्ट्रपति पद की दौड़ में उनके परिवार का नाम वरदान और अभिशाप दोनों है।