अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने प्रधानमंत्री मोदी की नकल की है. एक अमेरिकी अखबार की रिपोर्ट के अनुसार, अफगानिस्तान में अमेरिका नीति पर वार्ता के दौरान ट्रंप मोदी के अंदाज में भारतीय लहजे में बोलते सुने गए. बता दें कि पीएम मोदी ने पिछले साल ट्रंप से मुलाकात में कहा था कि किसी भी देश ने बिना किसी फायदे के किसी देश में इतना योगदान नहीं दिया है, जितना अमेरिका ने अफगानिस्तान में किया है.

WEF 2018: PM Modi met CEOs of top global companies in Davos | दावोस में दुनियाभर के सीईओ से मिले पीएम मोदी, कहा- इंडिया का मतलब बिजनस

WEF 2018: PM Modi met CEOs of top global companies in Davos | दावोस में दुनियाभर के सीईओ से मिले पीएम मोदी, कहा- इंडिया का मतलब बिजनस

इस बैठक में अमेरिका के राष्ट्रपति ने आगे कहा कि जो बात पीएम मोदी ने कही है उससे साबित होता है कि दुनिया में अमेरिका को देखने का नजरिया क्या है. आपको बता दें कि पीएम मोदी और ट्रंप हन मुद्दों पर चर्चा करते हैं. पीएम मोदी ने युद्धग्रस्त अफगानिस्तान पर भी ट्रंप से चर्चा की हैं. वाशिंगटन पोस्ट की एक रिपोर्ट के अनुसार जून 2017 में डोनाल्ड ट्रंप के साथ हुई एक मीटिंग में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था बेहद कम रिटर्न पर अमेरिका ने अफगानिस्तान का सहयोग किया है, ऐसा किसी अन्य देश ने कभी नहीं किया है.

इससे पहले भी अमेरिका के राष्ट्रपति को भारतीय लोगों के अंग्रेजी बोलने के तरीके नक़ल करते देखा गया है. ट्रंप ने अप्रैल 2016 में अपने चुनाव प्रचार अभियान के दौरान भारतीय कॉल सेंटर कर्मचारियों के अंग्रेजी बोलने के लहजे की भी नकल की थी.