नई दिल्ली: व्हाइट हाउस विश्वबैंक के अध्यक्ष पद के लिए कोल्ड ड्रिंक बनाने वाली वैश्विक कंपनी पेप्सिको की पूर्व सीईओ इन्दिरा नूई के नाम पर विचार कर रहा है. भारत में जन्मीं 63 वर्षीय नूई ने 12 साल तक पेप्सिको का कमान संभालने के बाद पिछले साल अगस्त में पद से इस्तीफा दे दिया था. ‘द न्यूयॉर्क टाइम्स’ की एक खबर के मुताबिक अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की बेटी इवांका ट्रंप ने ‘नूई को प्रशासनिक सहयोगी’ बताया है. उल्लेखनीय है कि इवांका विश्वबैंक के नए प्रमुख के लिए नामांकन प्रक्रिया में अहम भूमिका निभा रही हैं. Also Read - Neera Tanden ने व्हाइट हाउस में Budget Chief के पद से अपना नामांकन वापस लिया

इस प्रक्रिया से अवगत कुछ लोगों के हवाले से खबर में कहा गया है कि विश्वबैंक प्रमुख के चयन की प्रक्रिया अभी प्रारंभिक चरण में है. प्राय: ऐसा होता है कि ऐसे अहम पदों के लिए नामांकन पर अंतिम निर्णय होने तक शुरुआती दावेदार दौड़ से बाहर हो जाते हैं. हालांकि अब तक यह अस्पष्ट है कि ट्रंप प्रशासन द्वारा नामित किये जाने पर नूई अपने नामांकन को स्वीकार करेंगी या नहीं. Also Read - Neera Tanden: बाइडेन सरकार में भारतीय अमेरिकी नीरा टंडन की नियुक्ति का मामला लटका

खबरों के मुताबिक ट्वीट में नूई को ‘मार्गदर्शक एवं प्रेरणास्रोत’ बताकर इवांका ने पेप्सिको की पूर्व सीईओ का नाम विश्वबैंक के संभावित उत्तराधिकारी के पद के लिए आगे किया है. विश्वबैंक के वर्तमान अध्यक्ष जिम योंग किम ने इस महीने की शुरुआत में ऐलान किया है कि वह फरवरी में अपना पद छोड़ देंगे. इसके बाद वह निजी अवसंरचना से जुड़ी निवेश कंपनी से जुड़ेंगे. Also Read - कमला हैरिस के उपराष्ट्रपति बनने से भारत-अमेरिका रिश्ते और मजबूत होंगे : व्हाइट हाउस

आईआईएम कोलकाता से पासआउट और येल यूनिवर्सिटी से पढ़ाई कर चुकीं 62 साल की इंद्रा नूई को पेप्सिको को नई ऊंचाई पर पहुंचाने का श्रेय जाता है. इंद्रा नूई पेप्सीको में 24 साल की लंबी पारी के बाद 3 अक्टूबर को अपना पद छोड़ चुकी हैं जिनमें से 12 साल वह सीईओ रही हैं. अपने फैसले पर इंद्रा नूई ने कहा था कि पेप्सीको की अगुवाई करना उनके जीवन के लिए बहुत बड़े सम्मान की बात रही. उन्हें इस बात पर गर्व है कि पिछले 12 साल में उन्होंने न सिर्फ शेयरहोल्डर्स बल्कि सभी संबंधित पक्षों के हित में काम किया.