सिंगापुर: व्हाइट हाउस प्रशासन ने सिंगापुर में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की किम जोंग उन के बीच मंगलवार को हुई शिखर वार्ता के कुछ मौकों को पत्रकारों को कवर करने से रोक दिया, जबकि कुछ चुनिंदा पत्रकारों को ही कवरेज की अनुमति दी गई. हालाकि, लंबे समय से यह सुनिश्चित करने की तैयारियां की जा रही थी कि जनता को इस ऐतिहासिक वार्ता की पूरी जानकारी मिले. व्हाइट हाउस ने अभी इसका जवाब नहीं दिया है कि पत्रकारों के पूरे समूह को कवरेज से क्यों रोक दिया गया .

एपी के मीडिया रिलेशंस की निदेशक और प्रवक्ता लॉरेन ईस्टन ने कहा, ”सिंगापुर वार्ता की मीडिया कवरेज पर रोक से एपी परेशानी में है.” उन्होंने कहा, यह जनता का नुकसान है जिसे राष्ट्रपति की संभवत: सबसे अहम बैठकों पर तुरंत, सटीक और पूरी रिपोर्ट मिलनी चाहिए थी.

व्हाइट हाउस और प्रेस कोर द्वारा स्वीकृत नियमों के तहत पत्रकारों का एक समूह हर समय राष्ट्रपति के साथ मौजूद रहेगा और उसे हर उस बैठक को कवर करने की अनुमति है, जिसकी मंजूरी प्रेस को दी गई है. इस समूह में टीवी , प्रिंट और फोटो मीडिया के प्रतिनिधि शामिल थे.

ट्रंप की किम से सीधी बैठक की शुरुआत में फोटो सत्र के दौरान द एसोसिएटेड प्रेस, रॉयटर और ब्लूमबर्ग के पत्रकारों को समूह से बाहर रखा गया. हालांकि टीवी कैमरामैन और साउंड टेक्नीशियन को कवरेज की अनुमति दी गई.

ट्रंप- किम और उनके शीर्ष सहायकों के वर्किंग लंच की शुरुआत में एक अन्य फोटो सत्र में किसी भी स्वतंत्र पत्रकार को कवरेज की अनुमति नहीं दी गई. अमेरिकी पत्रकारों को लंच के बारे में जानकारी तब मिली जब मेजबान सिंगापुर द्वारा एक फुटेज जारी की गई. (इनपुट एजेंसी)