China, WHO, China, COVID-19 pandemic, COVID-19, Latest News: बीजिंग: चीन से दुनियाभर में फैले कोरोना वायरस की ओरिजन को लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन की एक एक्‍सपर्ट्स की टीम वुहान पहुंच गई हैै . डब्‍ल्‍यूएचओ की टीम ‘शुरुआती मामलों में संक्रमण के संभावित स्रोत का पता लगाने के लिए वुहान में अध्ययन शुरू कर दिया है.Also Read - Coronavirus Update: WHO ने फिर चेताया, कहा- 'कोरोना वायरस कभी भी पूरी तरह से समाप्त नहीं होगा लेकिन...'

बता दें कि चीन स्वतंत्र जांच की मांग को खारिज करता रहा है, वहीं, कोरोना वायरस की उत्पत्ति के मामले में सभी अध्ययनों पर सख्ती से नियंत्रण रख रहा है. वह इस तरह की धारणाओं को भी हवा दे रहा है कि कहीं बाहर से चीन में यह वायरस आया हो सकता है. Also Read - Lata Mangeshkar Health: कोरोना के साथ निमोनिया से भी जूझ रहीं लता मंगेशकर, जानें कैसी है उनकी तबियत?

ताजा जानकारी के मुताबिक, विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के 10 अंतर्राष्ट्रीय विशेषज्ञों की टीम चीन के वुहान में पहुंची है. यह टीम COVID-19 महामारी की उत्पत्ति की जांच यहां करेगी. Also Read - One Year of Vaccination Drive: देश में कोरोना टीकाकरण का एक साल पूरा, अब तक 156 करोड़ से ज्यादा डोज लगाई गईं

चीन ने मंगलवार को बताया था कि WHO के विशेषज्ञ कोरोना वायरस महामारी की उत्पत्ति के मामले में अपनी जांच शुरू करने के क्रम में वुहान शहर का दौरा करेंगे, जहां 2019 के दिसंबर में सबसे पहले वायरस का पता चला था.

कई महीने से इस दौरे की उम्मीद की जा रही थी. डब्ल्यूएचओ प्रमुख टेड्रोस अधानम घेब्रेयेसस ने पिछले सप्ताह इस बात पर निराशा प्रकट की थी कि दौरे को अंतिम रूप देने में लंबा समय लग रहा है.

चीन ने मंगलवार को डब्ल्यूएचओ के अधिकारियों के दौरे के बारे में जानकारी दी थी. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियान ने कहा था कि विशेषज्ञ गुरुवार को वुहान पहुंचेंगे. उनके कार्यक्रम का अन्य ब्योरा घोषित नहीं किया गया है और चीन सरकार के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने भी अन्य कोई जानकारी नहीं दी.

चीन ने सोमवार को डब्ल्यूएचओ के अधिकारियों के दौरे की घोषणा की जिसके बाद टेड्रोस ने कहा कि अनेक देशों के वैज्ञानिक इस बात पर ध्यान केंद्रित करेंगे कि कोरोना वायरस सबसे पहले मनुष्य तक कैसे पहुंचा. उन्होंने कहा, ”शुरुआती मामलों में संक्रमण के संभावित स्रोत का पता लगाने के लिए वुहान में अध्ययन शुरू होंगे.”