दुनिया में कोरोना ने खूब तबाही मचाई, लेकिन अब कोरोना की वैक्सीन की आपातकालीन मंजूरी दुनिया के कई देशों में दी जा चुकी है. ऐसे में भारत में भी टीकाकरण का काम शुरू होने वाला है. 16 जनवरी को इसकी शुरुआत होने वाली है लेकिन इस बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने एक बयान जारी करते हुए कहा कि कोरोना का दूसरा साल पहली साल की तुलना में और भी बुरा हो सकता है. Also Read - द. कोरिया: पालतू जानवर में Covid-19 का पहला मामला आया सामने, बिल्ली का बच्चा कोरोना वायरस से संक्रमित

WHO हेल्थ इमरजेंसी प्रोग्राम के कार्यकारी निदेशक माइकल रियान ने कहा कि कोरोना वायरस महामारी का दूसरा साल ट्रांसमिशन डायनामिक्स पर पहले की तुलना में और अधिक कठिन हो सकता है. रेयान ने कहा कि हम अब दूसरे वर्ष में आ चुके हैं ऐसे में ट्रांसमिशन डायनेमिक्स को देखते हुए यह कठिन हो सकता है. Also Read - नए साल में पहली बार असम पहुंचे पीएम मोदी, भूमिहीन मूल निवासियों के लिए जमीन के पट्टों का किया वितरण

जॉन हॉपकिन्स विश्वविद्यालय के अनुसार WHO ने 11 मार्च को कोरोना को महामारी घोषित कर दिया था. बता दें कि आज के समय दुनिया भर में 9.21 करोड़ लोग कोरोना से संक्रमित हैं और लाखों लोगों की अबतक कोरोना से मौत हो चुकी है.