सैन फ्रांसिस्कोः इंटरनेट की दुनिया की दिग्गज सर्च इंजन कंपनी गूगल ने सोमवार को अपने फीचर में कुछ बदलावों की घोषणा की जिनका लक्ष्य ज्यादा से ज्यादा तस्वीरों के इस्तेमाल से इस हद तक उन्हें समझना होगा कि आपके सवाल पूछने से पहले ही जवाब बता दे. सैन फ्रांसिस्को में आयोजित एक कार्यक्रम में गूगल के उपाध्यक्ष बेन गोम्स ने बताया कि कृत्रिम मेधा (आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस) और मशीन लर्निंग गूगल की उस कार्यप्रणाली का महत्वपूर्ण हिस्सा हैं जो उसके 20 साल के मिशन को दुनिया की सूचनाओं को एक जगह एकत्र करने और उसे समाज के हर तबके तक पहुंचाने की दिशा में आगे बढ़ाएगी.Also Read - इंटरनेट पर पहुंची विवाहित महिला की आपत्तिजनक तस्वीरें, हाईकोर्ट ने गूगल, यूट्यूब और केंद्र सरकार को दिया ये निर्देश

सर्च इंजन गूगल का ध्यान अब मुख्य रूप से मोबाइल पर केंद्रित होगा और ऐसा प्रतीत होता है कि फेसबुक की तरह ही अब गूगल भी यूजर्स को फोटो और वीडियो के जरिए ही विभिन्न विषयों पर रुचिपूर्ण चीजें देखने और पढ़ने का मौका देगा. गोम्स ने कहा, ‘ गूगल सर्च पूर्णत: दोषहीन नहीं है. हमें इसको लेकर कोई भ्रम नहीं है. लेकिन आपको हम आश्वस्त करते हैं कि हम इसे रोजाना और बेहतर करेंगे.’ Also Read - Google पर बुक कर सकते हैं कोविड वैक्सीन स्लॉट, सरकार ने शुरू की नई पहल, जानिए डिटेल

(इनपुट भाषा) Also Read - Google Maps Updates: रोड ट्रिप के दौरान अब Google Maps बताएगा कितना देना है टोल टैक्स