विचिटा: कंसास के एक प्रौद्योगिकी स्कूल ने जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के खिलाफ हो रहे प्रदर्शनों पर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की प्रतिक्रिया की आलोचना के चलते उनकी बेटी इवांका ट्रंप के स्नातक विद्यार्थियों के लिए ऑनलाइन संबोधन की योजना को रद्द कर दिया है. Also Read - इस देश ने डोनाल्ड ट्रंप की गिरफ्तारी के लिए जारी किया वारंट, इंटरपोल से भी मांगी मदद

विचिटा स्टेट यूनिवर्सिटी और डब्ल्यूएसयू टेक के प्रशासकों ने गुरुवार रात इसकी घोषणा की, जबकि इससे कुछ ही घंटे पहले उन्होंने घोषणा की थी कि इवांका डब्ल्यूएसयू टेक के स्नातकों से बात करेंगी. Also Read - डोनाल्ड ट्रंप को पसंद है योगी मॉडल, जानें सीएम Yogi के किस तरीके को अमेरिका में किया जा रहा है फॉलो

दोनों संबद्ध विश्वविद्यालयों के प्रशासकों ने कहा कि प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के लिए शनिवार का समारोह विद्यार्थियों पर ही केन्द्रित रहेगा और इसमें नर्सिंग ग्रेजुएट एकमात्र वक्ता होगा. Also Read - H1B वीजा पर अमेरिका ने लगाई रोक, तो सुंदर पिचाई बोले- हम खड़े हैं इमिग्रेंट्स के साथ

इवांका ट्रंप ने पिछले साल डब्ल्यूएसयू टेक के नेशनल सेंटर फॉर एविएशन ट्रेनिंग का दौरा किया था. उन्होंने एक ट्वीट के जरिए यह कहते हुए प्रतिक्रिया दी, ”हमारे देश के परिसरों को अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का गढ़ होना चाहिए. संस्कृति को रद्द करना और दृष्टिकोण भेदभाव शिक्षण के विपरीत हैं. एक दूसरे को सुनना अब पहले से कहीं ज्यादा महत्त्वपूर्ण हो गया है.”

ट्वीट में यूट्यूब वीडियो का लिंक भी था, जिममें वह वैश्विक महामारी के बीच अपनी डिग्री पूरी करने वालों से कह रही हैं, ”आप युद्ध के समय के स्नातक हैं” और आपके प्रशिक्षण ने आपको ”ठीक इसी क्षण के लिए तैयार किया है.”

राष्ट्रपति की बेटी को बोलने का मौका देने की घोषणा की तत्काल निंदा होने लगी, जिसके बाद विचिटा स्टेट की फोटो मीडिया की एसोसिएट प्रोफेसर जेनिफर रे ने स्कूल प्रशासकों को पत्र लिखकर भाषण रद्द करने को कहा.