वाशिंगटन: आंतकवादी ओसामा बिन लादेन को मारने के लिए जिस अमेरिकी नौसेना सील ने छापा मारा था, उसके कमांडर विलियम मैकरावेन ने सीआईए के पूर्व प्रमुख जॉन ब्रेनन की सुरक्षा मंजूरी हटाने की वजह से अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की आलोचना की है.

ट्रंप के इस फैसले से गुस्साए मैकरावेन ने कहा कि वह चाहते हैं कि उनकी भी सुरक्षा मंजूरी खत्म की जाए. नौसेना के सेवानिवृत्त एडमिरल ने वाशिंगटन पोस्ट में प्रकाशित एक खुले पत्र में ब्रेनन का बचाव करते हुए कहा कि वह जितने भी सरकारी अधिकारियों को जानते हैं, ब्रेनन उनमें सबसे अच्छे हैं. मैकरावेन ने कल कहाकि अमेरिका की रक्षा करने के लिए कुछ ही अमेरिकियों ने ब्रेनन से ज्यादा काम किया है. जो उन्हें नहीं जानते हैं, उन लोगों को छोड़कर ब्रेनन की ईमानदारी और उनके चरित्र पर कभी किसी ने सवाल नहीं किया.’ उन्होंने कहा कि इसलिए अगर मेरी भी सुरक्षा मंजूरी हटाई जाए तो मैं इसे सम्मान समझूंगा ताकि मैं ऐसे लोगों की सूची में अपना नाम शामिल कर सकूं जिन्होंने आपके राष्ट्रपति शासन के खिलाफ बोला है.

अमेरिका ने कुओमो को दी चेतावनी: मेरे खिलाफ चुनाव लड़ने वाले को भुगतना पड़ेगा अंजाम

ट्रंप ने पूर्व सीआईए प्रमुख की सुरक्षा हटाई
बता दें कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पूर्व सीआईए प्रमुख जॉन ब्रेनन की सुरक्षा वापस ले ली थी. बीबीसी की रिपोर्ट के मुताबिक, ब्रेनन ने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ हेलसिंकी शिखर सम्मेलन के बाद ट्रंप के प्रदर्शन को लेकर जुलाई में निंदा की थी. उन्होंने रूसी राष्ट्रपति के साथ शिखर सम्मेलन को विश्वासघात जैसा बताया था. (इनपुट एजेंसी)