टोक्यो: जापान के चितेत्सु वतनाबे का गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड प्रमाणपत्र प्राप्त करने के 11 दिन बाद निधन हो गया. 112 साल के वतनाबे दुनिया के सबसे बुजुर्ग व्यक्ति थे. समाचार एजेंसी एफे की रिपोर्ट के मुताबिक, वतनाबे का रविवार की रात निधन हो गया. उन्होंने 12 फरवरी को आधिकारिक रूप से निगाता प्रांत के जोएत्सु के एक नर्सिग होम में प्रमाणपत्र प्राप्त किया था. वह निगाता में रहते थे. Also Read - Fashion Show: एवरेस्‍ट पर अनोखा फैशन शो, बना Guinness World Record, देखें फोटोज

वतनाबे के बड़े बेटे की पत्नी ने सार्वजनिक प्रसारक एनएचके से कहा कि सबसे बुजुर्ग व्यक्ति के रूप में प्रमाणपत्र प्राप्त करने के बाद उन्हें भूख की कमी और सांस संबंधी दिक्कतें शुरू हो गईं. वतनाबे का जन्म 5 मार्च, 1907 को एक किसान परिवार में हुआ था. वह 20 साल की उम्र में ताइवान चले गए, जहां उन्होंने शुगर रिफाइनरी में 18 साल काम किया. वे द्वितीय विश्वयुद्ध खत्म होने के बाद जापान लौटे. Also Read - हैदराबाद के लाल ने किया कमाल, पांच साल की उम्र में बनाया विश्व रिकॉर्ड

वतनाबे को कैलीग्राफी, कस्टर्ड और आइसक्रीम पंसद थी. उन्होंने गिनीज टीम से कहा कि उनके लंबे जीवन की कुंजी हंसी है. Also Read - आठ घंटे में 260 लोगों को कृत्रिम अंग लगाकर बनाया नया गिनीज रिकार्ड