सना: यमन के दक्षिणी शहर अदन के हवाई अड्डे पर बुधवार को भीषण धमाका हुआ. सुरक्षा अधिकारियों ने बताया कि यह धमाका नव गठित कैबिनेट के सदस्यों को लेकर आए विमान के उतरने के कुछ देर बाद हुआ. इस फिलहाल आतंकी हमला माना जा रहा है. इस घटना में यमन के पीएम बाल बाल बच गए. विस्फोट के कारण कम से कम 16 लोगों की मौत हो गई जबकि करीब 60 लोग घायल हुए हैं. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. Also Read - तेल टैंकर से तेल चोरी के दौरान हुआ भीषण विस्फोट, तीन लोगों की झुलसने से मौत

धमाके की वजह की तत्काल जानकारी नहीं मिली और न ही किसी संगठन ने धमाके की जिम्मेदारी ली है. घटनास्थल के फुटेज में दिख रहा है कि सरकारी प्रतिनिधिमंडल के विमान से बाहर आते ही धमाका हुआ. सरकारी विमान में सवार कोई व्यक्ति हताहत नहीं हुआ और कई मत्रियों को वापस विमान में सवार होते हुए देखा गया. Also Read - सोने को पेस्ट बनाकर शरीर के अंदर ऐसी जगह छिपाया, अफसर भी रह गए सन्न, एयपोर्ट पर 1.31 KG सोना जब्त

सरकारी विमान में सवार यमन के संचार मंत्री नजीब अल अवग ने एसोसिएटेड प्रेस (एपी) को बताया कि उन्होंने दो धमाकों की आवाज सुनी और ऐसा लगा कि यह ड्रोन हमला है. यमन के प्रधानमंत्री मईन अब्दुल मलिक सईद और अन्य को धमाके के बाद तुरंत हवाई अड्डे से शहर स्थित मशिक पैलेस ले जाया गया.

उन्होंने बताया, ‘‘ अगर विमान पर बमबारी होती तो यह विनाशक होता.’’ अदन स्वास्थ्य कार्यालय के उप प्रमुख मोहम्मद अल रोउबिद ने एपी को बताया कि धमाके में कम से कम 16 लोगों की मौत हुई है जबकि 60 अन्य घायल हुए हैं.

घटनास्थल से सोशल मीडिया पर साझा की गई तस्वीरों में हवाई अड्डे के भवन के आसपास मलबा एवं टूटे हुए शीशे पड़े दिखे और कम से कम दो शव वहां पड़े हुए थे जिनमें एक शव जला हुआ था.